Votership
                            


     वोटरशिप मूल भावसंदेशहोम पेज भरत गांधीसंम्पर्क करेंडाउनलोड्स

 

वोटरशिप होमपेज

खण्ड-एक

याचिका के लिये आवेदन

सेवा में,

      लोकसभा

      संसद भवन

      नई दिल्ली-110001

     

यह कि याचिकाकर्ता षपथपूर्वक निम्नलिखित बयान करते हैं कि -

      1. यह याचिका लोकसभा के प्रक्रिया तथा कार्य संचालन नियम अध्याय-12 के   नियम 168 व अन्य नियमों के अंतर्गत लोकसभा के समक्ष पेष की जा रही है।

      2. यह कि लोकसभा में यह याचिका एक या दो की बजाय लोकसभा के 72 सदस्यों द्वारा पेष की जा रही है, समय के साथ सांसदों की यह संख्या बढ़ने की संभावना है। इतिहास में लगभग सभी याचिकायें एक या दो सांसदों द्वारा ही प्रस्तुत की गई हैं, इसलिए यह एक असाधारण व अपरम्परागत याचिका हैं।

      3. यह कि इस याचिका के प्रमुख याचिकाकर्ता भरत गांघी हैं।

      4. यह कि इस याचिका के अन्य याचिकाकर्ताओं का विवरण खण्ड-6 में अंकित है।

      5. यह कि इस याचिका को दो भागों, छ खण्डों, व ए-4 साइज के 122 पृष्ठों में  प्रस्तुत किया गया है।

      6. यह कि याचिका के संलग्नकों, साक्ष्यों व कुछ अन्य उपयोगी सामग्री को भाग-2 में शामिल किया गया हैं व षेश सभी तथ्य भाग-1 में समायोजित हैं। भाग-2 इस याचिका के साथ संलग्न नहीं किया गया है।

      7. यह कि पहले खण्ड में याचिका का आवेदन व दूसरे खण्ड में प्रमुख याचिकाकर्ता के पते के विशय में सूचनाएं अंकित हैं। तीसरे खण्ड में वोटरषिप के विषालकाय मामले का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया गया है, चौथा खण्ड याचिका की प्रार्थना से, व पांचवां  लोकसभा के उन सदस्यों के विवरण से संबंधित है, जो याचिका को लोकसभा में पेष कर रहे है। अन्य याचिकाकर्ताओं के नाम पते व हस्ताक्षर छठे खण्ड में अंकित है।

      8. यह कि प्रस्तुत दस्तावेज को लघु रूप में रखने के उद्देष्य से केवल भाग एक  ही प्रस्तुत है, याचिका का भाग-2 याचिकाकर्ता साक्ष्य के रुप में लोकसभा के समक्ष पेश करना चाहते है।

      9. यह कि अन्य याचिकाकर्ताओं की संख्या अति विषाल है, जिनके नाम, पते व हस्ताक्षर लोकसभा अध्यक्ष के पते पर इस याचिका के खण्ड-6.2 के अन्तर्गत समय-समय पर किस्तों में प्रेशित किया जाता रहेगा।

 

   

                                               Home

 


copyright                                                                                                                               The webpage is developed by

भरत गांधी कोरोनरी ग्रुप                                                                                                         Naveen Kumar Sharma